HEALTH

‘स्वर्णसाथी‘ दिलाऐगा गुटका-तंबाकू-पान-सुपारी-सिगरेट की आदतों से निजात, बिग ब्रदर न्यूट्रा केयर किया अनावरण
(Yogesh Gautam) Dainikkhabre.com Monday,11 June , 2018)

New Delhi News, 11 June 2018 :  बिग ब्रदर न्यूट्रा केयर प्राइवेट लिमिटेड बेस्टोकेम फॉर्मूलेशन (आई) लिमिटेड की एक न्यूट्रास्यूटिकल शाखा है, जो भारत के बढ़ते हेल्थकेयर समाधान समूह में से एक है। इस समूह ने आज भारत के पहले नोवेल न्यूट्रस्यूटिकल उत्पाद ‘स्वर्णसाथी‘ का अनावरण किया ताकि तम्बाकू और गुटका उपयोगकर्ताओं को बेनिफिशियल सपोर्ट मिल सके, जो कैंसर और अन्य पुरानी बीमारियों के कारण खतरे में हैं। प्राकृतिक सक्रिय सामग्री से बना यह देश (और विश्वक) का पहला ऐसा उत्पाद है, जिससे युवाओं और घनी जनसंख्या को तंबाकू की लत से लडऩे और साथ ही गुटका, तंबाकू की खपत और सिगरेट धूम्रपान के बुरे परिणामों को रोकने में मदद करेगी।  स्वर्णसाथी 14.95 एक एकल सर्व में एक बॉक्स और एक बॉक्स (1.20 बीमजे) 2,99 रुपये पर उपलब्ध एक किफ ायती न्यूट्रस्यूटिकल उत्पाद है। तीन प्राकृतिक अवयवों का मिश्रण जो संभावित रूप से एक विकल्प द्वारा गुटका के उपयोगकर्ता को दूर कर सकता है। यह हेल्दी व ऑप्शन के होने के बावजूद प्ली्जेंट फ्लेवर और स्वाद प्रदान करता है। युवाओं और घनी जनसंख्या को तम्बाकू की लत से लडऩे और साथ ही गुटका-अरेका-अखरोट, तंबाकू की खपत (किसी भी तरह से-तंबाकू चबाने, झुकाव, धूम्रपान या कच्ची खपत इत्यादि) के बुरे परिणामों को रोकने में मदद करेगा। और एक सुरक्षात्मक ढाल का काम करेगा।  इस अवसर पर बिग ब्रदर न्यूट्रा केयर प्राइवेट लिमिटेड के सीईओ श्री ग्रीश कुमार जुनेजा ने कहा, ‘‘हम इस प्राकृतिक स्वास्थ्य उत्पाद के माध्यम से अरबों लोगों के सकारात्मक स्वास्थ्य को सुनिश्चित करने के उद्देश्य से ‘वल्र्ड नो टोबैको डे‘ के सप्ताह में हमारे नोवेल न्यूट्रस्यूटिकल उत्पाद को लॉन्च करने के लिए बहुत गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। भारतीय आबादी का 35 प्रतिशत जो तंबाकू उपभोक्ता हैं और या तो इसका उपयोग करने से बचने के लिए आदी या कम इच्छुक हैं, उनके लिए अब एक सुरक्षात्मक ढाल उपलब्ध है- तीन प्राकृतिक अवयवों का मिश्रण जो संभावित रूप से गुटका के उपयोगकर्ता को एक विकल्प द्वारा दूर कर सकता है, जो एक हेल्दीऑप्शन के बावजूद प्लीजेंट फ्लेवर और टेस्ट प्रदान करता है।‘‘ लॉन्च के अवसर पर प्रसिद्ध बॉलीवुड स्टार अक्षय कुमार ने कहा, ‘‘ऐसा माना जाता है कि तंबाकू का उपयोग भारत के सभी कैंसर के 40 प्रतिशत से जुड़ा हुआ है और धूम्रपान के बढ़ते प्रसार के परिणामस्वरूप फेफड़ों का कैंसर भारत में महामारी अनुपात तक पहुंच गया है। जहां एक अनुमानित 2,500 मौतें हर दिन तम्बाकू से संबंधित कैंसर (टीआरसी) से जुड़ी हो सकती हैंय पुरुषों में 5 में से 1 और महिलाओं में 20 में से 1 की मौत हो सकती है। यह भी माना जाता है कि मुंह का कैंसर सभी घातकताओं में सबसे अधिक संबंधित हो रहा है और हर साल मुंह के कैंसर के लगभग 77,000 नए मामले सामने आते हैं, और प्रत्येक वर्ष 52,000 लोग इसके कारण मर जाते हैं। मैं स्वर्णसाथी को बढ़ावा देने के लिए बहुत खुश हूं, जिसका उद्देश्य तंबाकू से संबंधित घातकताओं के खिलाफ सभी भारतीयों को निवारक प्राकृतिक विकल्प प्रदान करना है।‘‘ प्राकृतिक सक्रिय अवयवों का मिश्रण होने के नाते स्वर्णसाथी नियमित रूप से नियमित खपत के लिए सुरक्षित है और किसी भी वयस्क द्वारा लिया जा सकता है, जब तक कि किसी भी उत्पाद के तत्वों में एलर्जी की स्थिति न हो।   बिग ब्रदर न्यूट्रा केयर प्राइवेट लिमिटेड की हेड कॉरपोरेट अफेयर्स सुश्री नीलाक्षी सिंह ने कहा, ‘‘सौभाग्य से 30 प्रतिशत- 50 प्रतिशत कैंसर स्वस्थ जीवनशैली पसंद से रोकथाम योग्य है। दुनिया में लगभग 50 प्रतिशत कैंसर एशिया में हैं। भारत में कैंसर की घटनाएं 10प्रतिशत है और लगभग 39.6प्रतिशत महिलाएं और पुरुषों को उनके जीवनकाल के दौरान किसी बिंदु पर कैंसर का निदान किया जाएगा। भारत में 13 करोड़ से अधिक लोग कैंसर से पीडि़त हैं - यह मधुमेह या लंबे समय तक खड़ी (पुरानी) श्वसन बीमारी वाले लोगों की तुलना में दोगुना है, और इस देश में हृदय रोग की घटनाओं से 4 गुना अधिक है। प्रत्येक दिन 1,300 भारतीय कैंसर से मर जाते हैं।‘ डब्ल्यु0 एच0 ओ0 मुताबिक, कैंसर विश्व स्तर पर मौत का दूसरा प्रमुख कारण है और यह 2015 में 8.8 मिलियन मौत के लिए जिम्मेदार था। वैश्विक स्तर पर 6 में से 1 मौत कैंसर के कारण है। सभी कैंसर में से, तम्बाकू से संबंधित कैंसर (टीआरसी) प्रमुख हिस्सेदारी के लिए जिम्मेदार है और लगभग 22 प्रतिशत कैंसर की मौतों के लिए जिम्मेदार है। तंबाकू का उपयोग ग्लोबल फेफड़ों के कैंसर के लगभग 70 प्रतिशत और भारत के सभी कैंसर का 40 प्रतिशत से जुड़ा हुआ है। जहां तक भारत के क्षेत्र संबंधित हैं, महाराष्ट्र, गुजरात, गोवा, राजस्थान, मध्य प्रदेश और पश्चिम बंगाल सहित उत्तर-पूर्वी राज्यों में टीआरसी अधिक हो रहा है,उसके बाद उत्तर प्रदेश, बिहार, उत्तराखंड और छत्तीसगढ़ हैं। हल्दी अपने विभिन्न लाभों के लिए लंबे समय से जाना जाता है और कई बीमारियों के लिए एक लोकप्रिय घरेलू उपचार है। हालांकि, हल्दी से लाभ के लिए, कैंसर के संबंध में कम से कम 2.5 से 5 चम्मच (बड़ा चम्मच) (प्रत्येक बड़ा चम्मच = 15 ग्राम) रोजाना उपभोग करना जरूरी होता है और यह व्यावहारिक नहीं होता है। ‘करक्यूमिनॉइड्स‘ (और हल्दी) खपत का एक और नुकसान यह है कि सक्रिय घटक ‘करक्यूमिन‘ रक्त को अपने लाभ देने के लिए रक्त में प्रवेश नहीं करता है। स्वर्णसाथी ‘करक्यूमिनॉइड्स‘प्रदान करके दोनों कमियों को खत्म करता है जिसे पर्याप्त मात्रा में केवल 1-2 सैशे लेने से आसानी से उपभोग किया जा सकता हैय उत्पाद में पाइपरिन भी होता है, जो आंत से रक्त तक ‘करक्यूमिनॉइड्स‘के मार्ग (अवशोषण) को बढ़ाकर 150-200 प्रतिशत द्वारा ‘करक्यूमिनॉइड्स‘ के रक्त स्तर को बढ़ाने के लिए जाना जाता है। इसलिए तीन प्राकृतिक सक्रिय अवयवों के मिश्रण हल्दी, टमाटर और काली मिर्च के अर्क का उपभोग लाभ उनको हो सकते है, जिनके पास तंबाकू गुटका खपत या सिगरेट धूम्रपान की बीमार आदतें हैं। ऐसी आदतों के बुरे परिणामों से ग्रस्त हैं। स्वर्णसाथी गैर-तंबाकू उपयोगकर्ताओं की लाइफस्टाइल में उपयोगी है। यह हानिकारक रासायनिक विषाक्त पदार्थों, प्रदूषकों, मिलावटों के खिलाफ लडऩे और सुरक्षा में मदद करता है, जो हम सभी को नियमित जीवन में (कक्र्यूमिन और लाइकोपीन के शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट गुणों के कारण) के संपर्क में होता है। इस स्वर्णसाथी के अलावा, कार्डियोवैस्कुलर स्वास्थ्य, पाचन और जीआई स्वास्थ्य, मस्कुलोस्केलेटल (जोड़ों, मांसपेशियों, हड्डियों) का समर्थन करता है और समग्र स्वास्थ्य का ख्याल रखता है।  गुटका, पान, सुपारी उपयोगकर्ताओं और सिगरेट धूम्रपान करने वालों के लिए सवर्णसाथी एक सच्चासाथी है। बिग ब्रदर न्यूट केयर प्राइवेट लिमिटेड के बारे मे बेस्टोकैम फॉर्मूलेशन, भारत में एक बढ़ती दवा कंपनी पूरे देश में मरीजों, भागीदारों और स्वास्थ्य देखभाल प्रणालियों को स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है।  श्री ग्रेसेश कुमार जुनेजा और श्री विजय प्रकाश के उद्यमशील दृष्टि के तहत 1 99 5 में निर्मित, बेस्टोकेम फॉर्मूलेशन में भारत की मौजूदगी है जिसमें 60,000 से अधिक चिकित्सकों ने बहु-विशिष्टताओं को पूरा किया और फैलाया। बेस्टोकेम फॉर्मूलेशन में 800 से अधिक कार्य बल देश भर में फैले हुए हैं और पिछले 23 वर्षों से सर्वोत्तम गुणवत्ता वाली दवाएं उपलब्ध करा रहे हैं। कंपनी भारत में एक दवा कंपनी बनने की अपनी दृष्टि को प्राप्त करने के लिए, उत्पाद नवाचार और रणनीतिक विकास पहलों के माध्यम से बाजार हिस्सेदारी को बनाए रखने और विकास इंजन को बढ़ावा देने में केंद्रित है।

Videos

slider by WOWSlider.com v8.6